Believe

Featured

KARM हमारा गुस्सा, काम, और लालच आप को और हमें हमेशा कड़ी मेहनत करने के लिये पीछे रखता हैं जबकि हमारा प्रेम, प्रशंसा, और आभार मेरे सहित सभी प्राणियों के खुशियों, समृद्धि और यश को बढ़ाता हैं। श्री कृष्ण को धन्यवाद। श्री अर्जुन को धन्यवाद। 1. Our anger, lust, and greed always keep you and … Continue reading Believe

Mantra 22186

ॐ जप करते हुए 3 महीने होने पर उसके, उसके ज्ञान, और उसके धाम विषय में और अधिक जानने का इच्छा उत्पन्न होगा।  धन्यवाद श्री कृष्ण, धन्यवाद श्री अर्जुन।   After 3 months of chanting ॐ, curiosity to know about him, his knowledge, and his adobe will increase. Thank you, Sri Krishna, Thank you, Sri Arjun.

Mantra 22189

उसके धाम में उचे-उचे पहाड़ हैं, स्वछ बहती हुई नदियां हैं, घने जंगल हैं , सुंदर सुंदर घर हैं, बड़े-बड़े कारखाने हैं, लह-लहते खेत हैं, बेहतरीन विश्वविद्यालय  हैं, अनाजों और रत्नों से भरे गोदाम हैं, और युद्ध के लिये हमेशा तैयार रहने वाले महारथियों की सेना हैं। उसकी प्रसंता के लिये, कृष्ण-अर्जुन का जप कर, … Continue reading Mantra 22189

Mantra 22190

उसकी कभी न छय होने वाली शक्ति के सहारे देश के अतुलनीय ऐश्वर्य और भारत के अनंत विस्तार के लिये यज्ञ करो, वो हमेशा साथ हैं।  धन्यवाद श्री कृष्ण, धन्यवाद श्री अर्जुन।   By his never ending power perform the yagna for the incomparable opulence of nation and infinite expansion of India. He is always together. … Continue reading Mantra 22190

Mantra 22191

नारद जी ने कहा, “उसके पास से आये हैं, उसके पास ही जाना हैं, क्या दुख हैं क्या सुख हैं, यज्ञ का कर्म निभाना हैं”।  धन्यवाद श्री कृष्ण, धन्यवाद श्री अर्जुन।   Narada ji said, “have come from him, have to go to him, what is happiness, what is suffering, have to perform the work of … Continue reading Mantra 22191

Mantra 22192

दुख और सुख को नष्ट कर अपने भक्तों की रक्षा करने वाला महाप्रलय हैं वो।  धन्यवाद श्री कृष्ण, धन्यवाद श्री अर्जुन।   He is the great calamity, destroying pain-pleasure to protect his devotees. Thank you, Sri Krishna, Thank you, Sri Arjun.

Mantra 22193

सभी किताबों में उसका, उसके ज्ञान और उसके धाम की ही चर्चा हैं। वही हत्यारा, बलात्कारी, और डकैत हैं लेकिन वही चिकित्सक, इंजीनियर, और किसान भी हैं। उसके धाम में सिर्फ उसके कर्मठ, दयालु, और बुद्धिमान भक्त ही निवाश करते हैं।  धन्यवाद श्री कृष्ण, धन्यवाद श्री अर्जुन।   All books describe him, his knowledge, and his … Continue reading Mantra 22193

Mantra 22194

उसके बीज को धैर्यपूर्वक उसके धाम में परिवर्तित होने दे और साहस के साथ उसको सब कुछ मृत्यु और जन्म के चक्र से मुक्त कर खुद में समाहित करते हुए महसूस करे।  धन्यवाद श्री कृष्ण, धन्यवाद श्री अर्जुन।    Let his seed grow into his adobe and witness him with courage while he absorbs everything in … Continue reading Mantra 22194

Mantra 22195

उसके धाम में सत्संग, शिक्षा, और रोजगार हैं लेकिन वो सबका जीवन लेने वाला प्रलय हैं। धन्यवाद श्री कृष्ण, धन्यवाद श्री अर्जुन।    His adobe has spiritual discourses, education and employment but he is life taking disaster. Thank you, Sri Krishna, Thank you, Sri Arjun.

Mantra 22196

श्री कृष्ण और श्री अर्जुन की भी उत्पत्ति उसी से हुई है लेकिन उस तक पहुँचने के लिये श्री कृष्ण और श्री अर्जुन का साथ अति आवश्यक हैं। धन्यवाद श्री कृष्ण, धन्यवाद श्री अर्जुन।    Sri Krishna and Sri Arjun has originated from him but to reach him company of Sri Krishna and Sri Arjun is … Continue reading Mantra 22196

Mantra 22197

वो हर जगह है, हर किसी में हैं, वही सबके दुखों का कारण है तब भी उसके पास ही जाना है। वो निर्गुण हैं निराकार हैं तब भी आखों के सामने हैं। वो निरंतर हैं, अनंत हैं, वो ही सभी ऐश्वर्य को उत्पन्न करने वाला हैं लेकिन वो ही काल का भी काल महाकाल हैं … Continue reading Mantra 22197